Live Tv

Tuesday ,19 Feb 2019

INX मीडिया केस में इंद्राणी मुखर्जी बनेंगी गवाह, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट करेगा सवाल

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Feb 07-2019 11:49:30am
 knews, news, khabar, taaza khabar, kanpur news, latest news, breaking news, hindi news, इन्द्राणी मुखर्जी, पी.चिदंबरम, कार्ति चिदंबरम, कोर्ट, ED, INX मीडिया, संपत्ति कुर्क, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, शीना वोरा मर्डर केस, जेल, आरोपी, पूर्व वित्त मंत्री

बहुचर्चित INX मीडिया केस में आरोपी इंद्राणी मुखर्जी ने दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में गवाह बनने की बात कही थी। आज कोर्ट वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दक्षिण मुंबई की भायखला जेल से कनेक्ट होगी। यहां कोर्ट इंद्राणी मुखर्जी से पूछेगा कि क्या इसके लिए उन पर कोई दबाव तो नहीं बनाया गया है। 

आपको बता दें कि इंद्राणी मुखर्जी शीना वोरा मर्डर केस में सजा काट रही हैं और पिछले 4 साल से जेल में ही बंद हैं। इंद्राणी मुखर्जी ने बीते साल दिसंबर में कोर्ट को चिट्ठी लिख इस मामले में गवाह बनने की बात कही थी। गौरतलब है कि आज ही इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम से पूछताछ करेगा। ईडी के अलावा कार्ति पर इस केस में सीबीआई का भी शिकंजा है। इस केस के बारे में आज पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम से प्रवर्तन निदेशालय पूछताछ करेगा। शुक्रवार को इनके पिता पी. चिदंबरम को भी पेश होना है। 

सवालों के चक्रव्यूह में फंसे Robert Vadra, आज फिर पेशी... (आगे पढ़े)

आपको बता दें कि इस मामले में ईडी ने CBI की प्राथमिकी के आधार पर एक PMLA का मामला दर्ज किया है और आरोप लगाया है कि INX मीडिया को २००७ में ३०५ करोड़ रुपये का विदेशी धन प्राप्त करने में एफआईपीबी की मंजूरी में अनियमितता की गई है, इस दौरान केंद्रीय वित्तमंत्री पी.चिदंबरम थे। 

ED व CBI दक्षिण मुंबई की भायखला जेल यह भी जांच कर रही हैं कि कैसे UPA सरकार में मंत्री पी. चिंदबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम एफआईपीबी की मंजूरी प्राप्त करने में कामयाब रहे। गौरतलब है कि कार्ति चिदंबरम को २८ फरवरी, २०१८ को गिरफ्तार किया गया था, बाद में उन्हें जमानत मिल गई। 

ED की अब तक की जांच से पता चला है कि FIPB की मंजूरी के लिए INX मीडिया के पीटर व इंद्राणी मुखर्जी ने पी.चिदंबरम से मुलाकात की थी, ताकि उनके आवेदन में किसी तरह की देरी न हो। ईडी ने कहा है कि इस तरह से जो रुपया संबंधित निकायों को मिला, वह गैरकानूनी रूप से एएससीपीएल में लगा दिया गया। 

ED ने कार्ति चिदंबरम की ५४ करोड़ रुपये की संपत्ति और मामले से जुड़ी एक कंपनी को कुर्क किया है। ईडी ने इस संपत्ति में ब्रिटेन के समरसेट में ८.६७ करोड़ का एक कॉटेज, स्पेन के गावा में १४ करोड़ रुपये की जमीन और एक टेनिस क्लब शामिल है।