Live Tv

Thursday ,21 Mar 2019

छत्तीसगढ़ में बंधक बने आज़मगढ़ के 8 मजदूर

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Jan 10-2019 04:54:12pm

आजमगढ़ जिले के कप्तानगंज थाना क्षेत्र के देउरपुर गांव में विनोद यादव के ईट-भठ्ठे पर काम करने के लिए छत्तीसगढ़ प्रांत के आठ मजदूर नवम्बर 2018 में अपने चार मासूम बच्चों के साथ पहुंचे। उन्होने एक महिने तक भठ्ठे पर मजदूरी की और जब दिसम्बर में अपनी मजदूरी मांगी तो भठ्ठा मालिक ने मजदूरी देने से इनकार कर दिया। इतना ही नही मजदूरों को मारपीटकर बंधक बना लिया गया। पीड़ित मजदूरों की मानें तो उनसे प्रतिदिन भठ्ठा मालिक काम लेता था । महिला मजदूरों के साथ भठ्ठे पर छेड़छाड़ भी की जाती थी। किसी तहर से बंधक मजदूर गुरूवार की सुबह भठ्ठे से भाग निकले । सभी मजदूर परिवहन निगम की बस में बैठकर नगर में आ रहे थे कि रास्ते में बस में भठ्ठा मालिक के गुर्गे सवार हो गये और वे उन्हे जबरदस्ती बसे से नीचे उतारने लगे। जिसका बस में बैठी सवारियों ने विरोध किया। इसी बीच बस आजमगढ़ बस अड्डे पहुंची। जहां बस के चालक और परिचालक ने उन्हे पुलिस चौकी के पास छोड़ दिया। इसी बीच एक बार पुनः भठ्ठा मालिक के गुर्गे पहुंचे और मजदूरों को धमकाने लगे लेकिन इसी बीच चौकी पर तैनात दारोगा पहुंचे। जिसके बाद भठ्ठा मालिक के गुर्गे मौके से फरार हो गये।