Live Tv

Thursday ,21 Mar 2019

72 साल बाद भारत ने खोला ऑस्ट्रेलिया में खाता, पुजारा रहे मैन ऑफ द सीरीज

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Jan 07-2019 11:22:11am

भारत और ऑस्ट्रेलिया दौरे के आखिरी टेस्ट मैच के अंतिम दिन सोमवार का खेल बारिश के कारण धुल गया और अधिकारियों ने इसे रद्द करने की घोषणा की। ऐसे में भारत ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज २ -१ से अपने नाम की है। कंगारुओं को धराशायी करने का काम कप्तान कोहली की प्लानिंग, बुमराह के उखाड़े गए विकेट और पुजारा के बेहतर प्रदर्शन ने किया। 

७२ साल में ऐसा पहली बार हुआ है जब टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलियाई ज़मीन पर कोई टेस्ट सीरीज जीती है। टीम इंडिया मैच में दूसरी पारी में ३१६ रन से आगे थी जबकि ऑस्ट्रेलिया ने फॉलोऑन खेलते हुए  ४ ओवरों में महज़ ६ रन बनाए थे। 

नरेंद्र मोदी की बायोपिक का पहला लुक, पीएम की भूमिका में नज़र आएंगे विवेक .... (आगे पढ़े)

बारिश की वजह से नहीं हो सका समय पर खेल शुरू 
चौथे दिन का खेल भी बारिश और खराब रोशनी की वजह से समय पर शुरू नहीं हो सका था। पहले सत्र और तीसरे सत्र में एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी। दिन भर केवल २५.२ ओवर का खेल ही हो सका था। इस वजह से पांचवे दिन का खेल निर्धारित समय से आधा घंटा पहले ही शुरू होना था लेकिन बारिश ने एक बार फिर खेल में खलल दाल दी।  

दोनों टीमों के बीच चौथे दिन के मैच में बारिश ने काफी परेशानियां खड़ी की। बारिश के कारण ही पहले सत्र में एक भी गेंद नहीं फेंकी गई और लंच की घोषणा कर दी गई। इसके बाद दूसरे सत्र में अपने पिछले दिन के स्कोर छह विकेट के नुकसान पर २३६  रनों के स्कोर से आगे खेलने उतरी ऑस्ट्रेलिया ने ६४ रन जोड़कर टीम को ३००  के स्कोर तक पहुंचाया और इसी स्कोर पर उसकी पहली पारी समाप्त भी हुई। 

भारत के लिए इस पारी में कुलदीप यादव ने सबसे अधिक पांच विकेट लिए। वहीं रवींद्र जडेजा और मोहम्मद शमी ने दो-दो विकेट जोड़े। इसके अलावा जसप्रीत बुमराह को भी एक सफलता हाथ लगी। इस मैच में सबसे अधिक विकेट लेने वाले कुलदीप यादव ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच की पहली पारी में पांच विकेट लेकर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले दूसरे खिलाड़ी हैं।उन्होंने ९९ रन देकर पांच विकेट लिए। जिससे टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसी के घर में किसी टेस्ट मैच में रनों के हिसाब से सबसे बड़ी जीत हासिल की। 

पुजारा हैं भारत के अनमोल रत्न 

ऑस्ट्रेलिया के महान क्रिकेटर इयान चैपल ने इस टेस्ट सीरीज में रनों का अंबार लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज़ चेतेश्वर पुजारा को विराट कोहली के ‘साम्राज्य’ का ‘सबसे अनमोल रत्न’ करार दिया है। पुजारा ने सीरीज में तीन शतकीय पारियां खेली जिसने भारत का प्रभुत्व कायम करने में अहम भूमिका निभाई। चैपल ने कहा की पुजारा ने अकेले दम पर ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को थकाने का काम किया। 

विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने मेजबान टीम ऑस्ट्रेलिया को २-१ से हराया। भारत की जीत का अंतर और भी बड़ा हो सकता था, लेकिन चौथे टेस्ट में बारिश ने खेल बिगाड़ दिया और मैच ड्रा हो गया। जहाँ भारतीय टीम ने सीरीज का पहला और तीसरा टेस्ट मैच जीता वहीं दूसरा मैच ऑस्ट्रेलिया के नाम रहा। 

रवि शास्त्री ने किया विराट को सैल्यूट 

सिडनी टेस्ट में भारत ने पहली पारी में ६२२ रन बनाकर पारी घोषित की। इसके साथ ही यह तय हो गया था कि भारत को सीरीज जीतने से कोई नहीं रोक सकता। हुआ भी वही, बारिश की खलल के बावजूद भारत की जीत पर कोई असर नहीं पड़ा। मैच के बाद कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इसमें कई दिलचस्प सवाल-जवाब सुनने को मिले। ऐसे ही एक सवाल के जवाब में रवि शास्त्री ने विराट कोहली को सैल्यूट कर दिया। 

एक पत्रकार ने रवि शास्त्री से हिंदी में पूछा कि लाला अमरनाथ से लेकर सुनील गावस्कर, सौरव गांगुली, महेंद्र सिंह धोनी जैसे कई कप्तानों ने ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया, लेकिन जीत विराट को मिली। आप इस पर क्या कहेंगे?  इस पर शास्त्री ने कहा, मैं इसका जवाब अंग्रेजी में दूंगा। उनका जवाब था की हम ७१ साल में पहली बार सीरीज जीते हैं, जिसका पूरा श्रेय विराट कोहली को जाता है। मैं इसके लिए अपने कप्तान को सैल्यूट करता हूँ, जिनकी कप्तानी में टीम ने ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में हराया है। 

भारत ने सिडनी में खेले गए चौथे टेस्ट के दूसरे ७ विकेट पर ६२२ रन बनाकर पारी घोषित की। चेतेश्वर पुजारा ने १९३ रन बनाए और  ऋषभ पंत १५९ रन बनाकर नाबाद रहे। इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी ३०० रन पर समेट दी। इस तरह भारत को ३२२ रन की बढ़त मिली। इसके बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया को फॉलोऑन के लिए आमंत्रित किया, लेकिन खराब रोशनी के कारण चौथे दिन का खेल भी जल्द समाप्त करना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया ने तब बिना किसी नुकसान के छह रन बनाए थे। पुजारा ने भारत की सीरीज जीतने में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने सीरीज में ७४.४२ की औसत से ५२१ रन बनाए जिसमें तीन शतक शामिल हैं। उन्हें 'मैन आफ द मैच' और 'मैन आफ द सीरीज' चुना गया। 

                                                                                     - विभा चौधरी