Live Tv

Tuesday ,19 Mar 2019

शहर में बदला ठण्ड ने रुख , राहगीर परेशान

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Jan 07-2019 11:48:36am

 गाज़ीपुर में कड़कड़ाती ठंड में लोगों को भारी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। ठंड के तीखे तेवर से सबसे ज्यादा राहगीरों और बेघर लोगों को मुसीबत उठानी पड़ रही है।लेकिन ठंड से राहत और बचाव के नाम पर महज कागजों पर अलाव जल रहे।इतना ही नही ठंड के मद्देनजर रैन बसेरों सिर्फ सरकारी दावों में सिमटे हुये है। सर्दी के इस मौसम पर ठंड अपने शबाब पर है।लगातार गिरता पारा और सर्द हवाओं ने गाजीपुर में लोगों की तकलीफे बढ़ा दी है।ठंड के दौरान शासन प्रशासन की ओर से ठंड से राहत और बचाव के नाम पर अलाव और रैन बसेरों की व्यवस्था के निर्देश हैं।लेकिन ये निर्देश सिर्फ सरकारी कागजों तक सिमटे हुये है। गाजीपुर में ठंड के तीखे तेवर बरकरार है।ठंड के इस मिजाज से सबसे ज्यादा राहगीरों और सड़कों पर रहने वाले मुश्किल में हैं। ठंड से बचने के लिए आग ऐसे लोगों का सहारा है।अलाव के नाम लोग सड़कों किनारे कागज,गत्ते और कबाड़ जलाकर ठंड से बचाव का रास्ता ढूढ़ रहे हैं।
 

IAS चन्द्रकला के घर पर सीबीआई का छापा.... (आगे पढ़े)

ठंड से राहत को लेकर नगर पालिका पूरी तरह बेपरवाह बनी हुई है। शहर में आश्र्यहीन लोगों को छड से बचाने के लिए कई रैन वसेरे है।लेकिन इन रैन बसेरों में ताले लटके नजर आ रहे है। ऐसे में ये रैन बसेरे महज शोपीस बने हुये है। जबकी  ठंड से ठिठुरते लोग कूड़ा करकट जला कर ठंड भगाने को मजबूर हैं। गाजीपुर से जहां ठंड से बचने के लिए गरीब और आश्रयहीन लोगों को भारी मुसीबते का सामना करना पड़ रहा है। वहीं नगर पालिका कागजों पर लाखों की लकड़ी जलाकर अलाव की व्यवस्था का कोरम पूरा कर रही है। इतना ही नही लोगों के बचाव के नाम पर बंद रेन बसेरा नगर पालिका की पोल खुल रही है।