Live Tv

Wednesday ,20 Mar 2019

आइना देख कर तसल्ली हुई  हम को इस घर में जानता है कोई 

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Dec 03-2018 03:21:12pm

वैसे यह शेर तो गुलज़ार साहब का है। इस शेर में जिस आइना शब्द का जिक्र किया गया है, उसका हर इंसान से नाता है। और सभी के घर ने आइना जरूर मिलेगा। क्योंकि हर व्यक्ति खुद को आइने में देख तैयार करता है। आईने के लिए सबसे जरुरी यह है की हम उसे घर की सही दिशा में लगा रहे हैं या नहीं। हमे कौन-कौन सी सावधानियां बरतनी चाहिए। आईने को वास्तुशास्त्र में बहुत  ही महत्व दिया गया है। अगर हम इससे संबंधित कोई गलती करते हैं तो स्वास्थ्य, धन और उन्नति आदि रास्ते में बाधा उत्पन्न होती है। 

 

यही आइने का शीशा टूट गया हो तो उसे घर में नहीं रखना चाहिए। इससे घर पर नकारात्मक प्रभावपड़ता है और परिवार के सदस्यों के बीच दूरियां बढ़ती हैं। सुबह उठते ही हमे आइना नहीं दिखाई देना चाहिए। और कोशिश यही करना चाहिए की अपने बेडरूम में आइना न ही रखें तो बेहतर होगा।  आइना को हमेसा साफ़ रखना चाहिए। गोल आकर को आइने को घर में न लगाएं तो ही बेहतर है। इसे घर के उत्तर, पूर्व और उत्तर पूर्व दिशा में लगाना लाभदायक माना जाता है।