Live Tv

Monday ,17 Dec 2018

राजस्थान चुनाव: जीत के लिए आखिरी दांव लगा रहे बड़े नेता

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Dec 01-2018 10:21:45am

एस पी शर्मा: 5 राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव में से 3 राज्यों में मतदान ख़त्म होने के बाद अब सभी बड़ी पार्टियों की नजर वीरों की धरती राजस्थान पर है. जहाँ पर इस समय बड़े नेताओं का जमावड़ा लगा हुआ है. एक तरफ कांग्रेस जहां अपने घोषणा पत्र में किसानों और युवाओं की बात को रख कर राजस्थान जीत करने का दावा कर रही है. वही दूसरी तरफ सत्तापक्ष भाजपा भी अपने घोषणा पत्र में कई लुभावने वादे किये है. जिससे उनको उम्मीद है की वह दोबारा यहाँ सरकार बना पाएंगी। 7 दिसम्बर को होने वाले मतदान से पहले आखिरी दौर के चुनाव प्रचार-प्रसार में सभी पार्टियां अपने पुरे दमखम से एक दूसरे पर हमला बोलकर वोटरों को अपने पक्ष में करने काम कर रही है. बता दे की चुनाव प्रचार में नेता इतने व्यस्त है की उनको देश के अन्नदाता किसानो पर नजर ही नहीं आ रहे. क्योंकि एक तरफ किसान अपनी मांगो को लेकर राजधानी पहुंचे है, वही सभी नेता राजस्थान में प्रचार-प्रसार करके अपने वोट बैंक को मजबूत करने में लगे है. 

 

लोकतंत्र के सेमीफाइनल के आखिरी दौर में रैलियों का दौर तेज़ हो गया है. वही इसी बीच में नेताओं के बडबोले बयान से भी राजस्थान की जनता ही नहीं बल्कि पुरे हिन्दुस्तान की जनता हैरान है. आपको बता दे की अलवर में भाजपा की तरफ से प्रचार करने आये यूपी के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने बजरंग बली को दलित बताया वही कांग्रेस भी पीछे रहने वाली कहा थी। उसके राष्ट्रिय अध्यक्ष राहुल गाँधी ने भी पुष्कर में रैली से पहले अपना गोत्र बता कर राजस्तान के चुनाव को नया मोड़ देने का काम किया। अब सवाल यह उठता है की क्या राजस्थान की जनता क्या अब भगवान और इंसान के जाति और गोत्र पर वोट करेगी? जिसको लेकर राष्ट्रिय पार्टियों के स्टार प्रचारक रैलियों में ऐसे बयां दे रहे है.  

अब पढ़े ताज़ा खबरें KNEWS Latest App पर: डाउनलोड करें